आंसू

पलकों मई आंसू और दिल में दर्द सोय है
हसने वालो को क्या पता 
रोने वाले किस कदर रोये है
येह तोह बस वही जान सकते है मेरी तन्हाई का आलम
जिसने जिंदिगी में किसी को पाने से पहले हे खो दिया !!!

+2

One thought on “आंसू

Leave a Reply

Your email address will not be published.