कैसे करें Present Value की आसान कैलकुलेशन?

Capture

फाइनेंसियल एनालिसिस का एक बहुत ही महत्वपूर्ण टॉपिक है “Present Value” जिसे यदि फाइनेंसियल मैनेजमेंट का सारथी भी कहा जाये तो कुछ गलत नहीं होगा| क्योंकि यह टॉपिक फाइनेंस के हर पार्ट का एक अभिन्न अंग होता है| इसकी कैलकुलेशन कैसे की जाती है ये तो शायद आपको पता होगा लेकिन बड़ी आसानी से इसकी कैलकुलेशन कैसे करें? इसके लिए आपको ये आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा| तो चलिए शुरू करते है-

Present Value का concept कहता है कि जिस पैसे की जो वैल्यू आज है वो भविष्य में मिलने वाले उसी पैसे की वैल्यू से कहीं ज्यादा है|

एकाउंटिंग विज्ञान के इस Concept का एक विशेष कारण भी है और वो कारण यह है कि

“कोई व्यक्ति किसी पैसे को भविष्य में लेने के लिए राजी होता है तो वो आज का वो मौका खो रहा है जो उसे उस पैसे को कहीं और निवेश करने की स्वतंत्रता देता”

इस वजह से उसे ब्याज का नुकसान होगा और यही कारण है कि उस पैसे की कीमत कल के मुकाबले आज की तारीख में ज्यादा होगी|

उदाहरण के लिए

मान लो एक व्यक्ति ने आज 10000 रुपये को 10% की रेट से ब्याज पर लगाया तो उसे एक साल बाद 1000 की आय होगी लेकिन अगर वो 10000 रुपये उसके पास एक साल बाद आते तो उसे 1000 रुपये के ब्याज का नुकसान होता| इसी 1000 के नुकसान को एकाउंटिंग विज्ञान की भाषा में “Time Value Of Money” के नाम से जाना जाता है|

अब हम इसी उदहारण को थोड़ा आगे बढ़ाते है, तो आज की तारीख में उस पैसे (10000 रुपये) का वो लेवल क्या है जिस पर हमें Time Value Of Money का नुकसान ना हो यानि कि ऐसा कौनसा अमाउंट है जिसे यदि हम आज 10 % की रेट से ब्याज पर लगा दे तो वो एक साल बाद 10000 रुपये हो जाये| अमाउंट के इसी लेवल को इंडिफरेन्स पॉइंट (Present value Of Money) कहते है| और इसकी कैलकुलेशन निम्न फॉर्मूले से करेंगे|

1

__________________________________

(1+Interest Rate) * Number of Years

 

हमारे उदहारण के अनुसार-

₹ 10000

____________________

(1+10%) * 1 Year

= ₹ 9090.91

सार रूप में यदि वो व्यक्ति 9090.91 रुपये अभी प्राप्त कर लेता और 10 % के ब्याज पर लगा देता है तो एक साल बाद उसके पास 10000 रुपये होंगे|

टाइम वैल्यू ऑफ़ मनी का Concept रिवर्स में भी काम करता है

अगर हम किसी को पेमेंट करने में देरी करते है तो उस पेमेंट वाले अमाउंट को deferred Amount कहते है| और उसका Present value निकलने का फार्मूला ये है –

[Amount deferred × (1 + Interest rate) * Number of years]

उदहारण के लिए अगर हम 10000 रुपये का पेमेंट delay करते है और ब्याज की दर 10 प्रतिशत है तो Present value होगी 11000 रुपये|

तो ये था फाइनेंसियल एनालिसिस का एक महत्वपूर्ण टॉपिक “Present Value Analysis”

Please Visit Our Website

GYAAN PORTAL

0

Leave a Reply

Your email address will not be published.